Monday, May 25Welcome Guest !
Shadow

अपरा एकादशी

हिन्दू धर्म में एकादशी का खास महत्व है। मनुष्य अपने पाप की मुक्ति और पुण्य पाने के लिए एकादशी का उपवास करते हैं। भगवान विष्णु का प्यार और स्नेह के इच्छुक परम भक्तों को दोनों दिन एकादशी व्रत करने की सलाह दी जाती है। आने वाली 18 मई को अपरा एकादशी है।

मान्यता है कि अपरा एकादशी को व्रत रखने से प्रेम योनि से मुक्ति से मिलती है और भक्त की सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं। अपरा एकादशी का व्रत रखने से जीवन में चली आ रही पैसों की परेशानी भी दूर होती है। इतना ही नहीं इस व्रत को करने से जातक अगले जन्म में भी धनी घर में पैदा होता है।

ज्येष्ठ महीने की कृष्ण पक्ष के दिन आने वाली एकादशी को अपरा एकादशी कहा जाता है। इस साल यह एकादशी 18 मई दिन सोमवार को पड़ रही है। अपरा एकादशी को भद्रकाली एकादशी, अचला एकादशी और जलक्रीड़ा एकादशी भी कहा जाता है। अपरा एकादशी के दिन व्रत रखने से पुण्य और सम्मान मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *