AAP के साथ गठबंधन से शीला दीक्षित का साफ इनकार

नई दिल्ली। एयर स्ट्राइक के बाद भारतीय राजनीति में पनपे हालातों को देखते हुए दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी चाहते थे कि आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया जाए। इसी को लेकर आज राहुल गांधी के सरकारी आवास में बैठक बुलाई गई। इसी बीच नाम न लिए जाने की शर्त पर सूत्र ने बताया कि दोनों पार्टियों के बीच में 3-3 सीटों को लेकर फॉर्मूला सामने आ रहा है और दिल्ली की बची हुए एक सीट को शत्रुध्न सिन्हा या फिर यशंवत सिन्हा के लिए छोड़ी जा सकती है।जबकि पहले 2 फॉर्मूले सामने आ रहे थे। पहला फॉर्मूला था कि आप दिल्ली की 6 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और एक सीट कांग्रेस को देगी और फिर वह कांग्रेस की मौजूदगी वाले राज्य में चुनाव नहीं लड़ेंगे। जबकि दूसरा फॉर्मूला यह कह रहा था कि आम आदमी पार्टी कांग्रेस को दिल्ली की 2 सीटें दे सकती है लेकिन फिर वह पंजाब और हरियाणा की सीटों पर भी बातचीत करेंगे।

इन्हीं कयासों के बीच में एक बड़ी खबर सामने आ रही है कि कांग्रेस की दिल्ली इकाई की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने साफ तौर पर आम आदमी पार्टी के साथ किसी  भी तरह का गठबंधन करने से इनकार कर दिया है। जिसे केजरीवाल के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है। क्योंकि आम आदमी पार्टी ने अपने छह उम्मीदवार घोषित करके कांग्रेस पर दवाब बनाने का प्रयास किया था। वहीं, आप के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने कहा था कि अभी भी हम गठबंधन के रास्ते खोल सकते हैं।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *