Breaking News

मौसम: बहुत भारी बारिश के आसार अगले दो दिन तक इन 16 राज्यों में

उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और बिहार समेत 16 राज्यों में अगले दो दिन तक भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। तटीय राज्यों के मछुआरों खासकर अरब सागर की ओर जाने वाले मछुआरों को उधर न जाने की चेतावनी जारी की गई है।
राष्ट्रीय आपदा प्रबंध प्राधिकरण ने मीडिया (NDMA) को जानकारी देते हुए कहा कि अगले दो दिन तक बंगाल की खाड़ी समेत देश के 16 राज्यों में अगले दो दिन भयंकर बारिश होने की संभावना है। वहीं देश के कुछ स्थानों जैसे उत्तराखंड में रेड अलर्ट जारी किया गया है। सोमवार को उत्तराखंड में भयानक बारिश होने की आशंका जताई गई है।
इन 16 राज्यों में होगी भयानक बारिश-
NDMA ने जिन 16 राज्यों में अगले दो दिन तक भयंकर बारिश की चेतावनी जारी की है उनमें उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ, झारखंड, ओडिशा अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, तटीय आंध्रप्रदेश, तटीय कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल हैं।
भारी बारिश और बाढ़ के कारण 7 राज्यों में इस मानसून सीजन में अभी तक 718 लोगों की जान जा चुकी है। गृहमंत्रालय के नेशनल इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर (NERC), के मुताबिक अब तक उत्तर प्रदेश में 171 लोगों ने अपनी जान गंवाई है, पश्चिम बंगाल में 170 लोगों की मौत हुई है। जबकि 178 लोग केरल में मारे गए हैं और 139 लोगों की महाराष्ट्र में मौत हो गई।
इसके अलावा गुजरात में 52 और असम में 44 लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा गुजरात में 52 और असम में 44 लोगों की मौत हो गई। केरल में अभी 26 लोग लापता हैं और अन्य राज्यों में बारिश के कारण 244 लोगों के घायल होने की खबर है।
यूपी में नदियां खतरे के निशान पर, गोंडा में बांध बहा
केंद्रीय जल आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में घाघरा, शारदा और सई समेत विभिन्न नदियां जगह-जगह उफान पर हैं। गोंडा के बच्ची माझा गांव के निकट भिखारीपुर सकरौर बंधा शुक्रवार देर रात सरयू नदी में समा गया। बंधा टूटने से करीब सवा सौ गांवों पर बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। शनिवार देर शाम तक लगभग तीन दर्जन गांवों में पानी घुस गया है। बंधा टूटने के बाद दो दर्जन गांव सरयू के पानी से लबालब हो गए हैं। वहीं घाघरा एल्गिनब्रिज (बाराबंकी), अयोध्या तथा तुर्तीपार (बलिया) में खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। शारदा नदी का जलस्तर पलियाकलां में लाल निशान के पार बना हुआ है। गंगा नदी का जलस्तर नरौरा (बुलंदशहर), फतेहगढ़, गुमटिया (कन्नौज), कानपुर और अंकिनघाट (कानपुर देहात) में रामगंगा नदी का जलस्तर डाबरी (शाहजहांपुर) में, यमुना का जलस्तर प्रयागघाट (मथुरा) में, राप्ती नदी का जलस्तर बलरामपुर और बांसी (सिद्धार्थनगर), सई नदी का जलस्तर रायबरेली में, शारदा नदी का जलस्तर शारदानगर में खतरे के निशान के पास पहुंच गया है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *