Breaking News

बॉलीवुड के शानदार अभिनेता राजकुमार, नौकरी छोड़ बॉलीवुड की राह

आज भी टीवी पर उनकी कोई फ़िल्म आ रही होती है तो सिनेप्रेमी रिमोट रखकर उन्हें देखने लग जाते हैं। उनका एक्टिंग स्टाइल, उनके सफेद जूते और उनके डायलॉग आज तक दर्शकों के ज़ेहन में ताज़ा हैं। ‘जानी’ उनका पसंदीदा शब्द था। कहते हैं, उनके कुत्ते का नाम जानी था, जिससे वो बहुत प्यार करते थे। फ़िल्मों में भी अक्सर वो इस शब्द का इस्तेमाल करते दिखते। कुछ याद आया आपको? हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड के एक शानदार अभिनेता राजकुमार की। आज उनकी जयंती है।
पकिस्तान से मुंबई तक का सफ़र
राजकुमार अभिनेताओं की उस खेप से आते हैं जो देश के बंटवारे के बाद पाकिस्तान से भारत आकर बस गए। राजकपूर, दिलीप कुमार, देव आनंद ये सभी पकिस्तान में जन्मे लेकिन इनका ठिकाना बना मुंबई। बलोचिस्तान में 8 अक्टूबर 1926 को जन्मे राजकुमार 40 के दशक में मुंबई आ गए। मूल रूप से एक कश्मीरी पंडित परिवार के इस बेटे का नाम कुलभूषण पंडित था। मुंबई पुलिस ने उनकी कद-काठी और स्नातक की डिग्री देख कर उन्हें सब इन्स्पेक्टर की नौकरी दे दी। वह मुंबई के माहिम पुलिस स्टेशन में सब इंस्पेक्टर के रूप में काम करने लगे।
नौकरी छोड़ बॉलीवुड की राह
बताते हैं एक बार पुलिस स्टेशन में फ़िल्ममेकर बलदेव दुबे कुछ जरूरी काम के लिए आए हुए थे। वह राजकुमार के बातचीत करने के अंदाज से काफी प्रभावित हुए और उन्होंने राजकुमार से अपनी फ़िल्म ‘शाही बाजार’ में अभिनेता के रूप में काम करने की पेशकश की। जैसे, उन्हें इस मौके का ही इंतज़ार था। राजकुमार ने तुरंत ही अपनी सब इंस्पेक्टर की नौकरी से इस्तीफ़ा दे दिया और फ़िल्म में काम करने को राजी हो गए।
एयरहोस्टेस पर आया दिल
पर्दे पर राजकुमार की इमेज भले ही एक रफ़ एंड टफ अभिनेता की रही हो। लेकिन, असल ज़िंदगी में राजकुमार सच्चे प्रेमी थे। क्या आप जानते हैं, एक हवाई यात्रा के दौरान एक एयरहोस्टेस पर उनका दिल आ गया। उन्होंने उस एंग्लो इंडियन लड़की जेनिफ़र से शादी कर ली। जेनिफ़र राजकुमार से शादी के बाद गायत्री राजकुमार कहलायीं। जिनसे राजकुमार को तीन संतानें हुईं-पुरु राजकुमार, वास्तविकता पंडित और पाणिनि राजकुमार।
गोविंदा के शर्ट को फाड़ बना लिया रुमाल
राजकुमार और गोविंदा एक फ़िल्म की शूटिंग कर रहे थे। राजकुमार को गोविंदा की शर्ट बहुत अच्छी लगी उन्होंने गोविंदा से कहा यार तुम्हारी शर्ट बहुत शानदार है। गोविंदा इतने बड़े आर्टिस्ट की यह बात सुनकर बहुत खुश हो गए। उन्होंने कहा कि सर आपको यह शर्ट पसंद आ रही है तो आप रख लीजिए। राजकुमार ने गोविंदा से शर्ट ले ली। गोविंदा खुश हुए कि राजकुमार उनकी शर्ट पहनेंगे। दो दिन बाद गोविंदा ने देखा कि राजकुमार ने उस शर्ट का एक रुमाल बनवाकर अपनी जेब में रखा हुआ है।
बड़े परदे पर भी आपने कई बार देखा होगा कि राजकुमार बड़े ही प्यार से सामने वाले की क्लास ले लिया करते थे। असल ज़िंदगी में भी उनका सेन्स ऑफ़ ह्यूमर कमाल का था। एक पार्टी में संगीतकार बप्पी लाहिड़ी राजकुमार से मिले। अपनी आदत के मुताबिक बप्पी ढेर सारे सोने से लदे हुए थे। बप्पी को राजकुमार ने ऊपर से नीचे देखा और फिर कहा वाह, शानदार। एक से एक गहने पहने हो, सिर्फ मंगलसूत्र की कमी रह गई है। उनके इस बात पर पार्टी में मौजूद सभी लोग हंसते-हंसते पागल हो गए।
3 जुलाई 1996 को महज 69 साल में इस दुनिया से विदा लेने से पहले इस महानायक ने कई सुपरहिट फ़िल्में और यादगार किरदार दिए हैं। 70 से भी ज़्यादा फ़िल्मों में अपने अभिनय की छाप छोड़ने वाले इस नायक की पहचान उनकी संवाद अदायगी है। आइये उनके कुछ ऐसे ही संवाद को एक बार फिर से याद करते हैं।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *