नकारात्मक माहौल में नहीं कर सकते आर्थिक वृद्धि की उम्मीद: राहुल गांधी

चेन्नई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को कहा कि आप देश में नकारात्मक माहौल के बीच आर्थिक वृद्धि की उम्मीद नहीं कर सकते जो प्रत्यक्ष तौर पर देश के मिजाज से जुड़ी हुई है। यहां स्टेला मेरिस कॉलेज में छात्राओं से उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश के मिजाज को बदल देगी और लोगों को खुश एवं सशक्त महसूस कराएगी। अपने जीजा रॉबर्ट वाड्रा पर पूछे गए सवाल के जवाब में गांधी ने कहा कि कानून हर किसी पर लागू होना चाहिए न कि चुनिंदा लोगों पर। गांधी ने छात्रों से कहा कि वे उन्हें राहुल कहकर पुकारें।
छात्रों के साथ अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने राफेल सौदे का मुद्दा भी उठाया और विमान की कीमतों एवं खरीद प्रक्रिया को लेकर अपने आरोप दोहराए। गांधी ने कहा कि मैं यह कहने वाला पहला शख्स हूंगा कि रॉबर्ट वाड्रा की जांच करें लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी करें। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो वह महिला आरक्षण विधेयक को पारित करेगी। उत्साहित भीड़ से उन्होंने कहा कि नेतृत्व के पदों पर पर्याप्त महिलाएं नजर नहीं आतीं। आप सत्ता में महिलाओं को तब तक नहीं देख सकते जब तक कि उनके प्रति नजरिए में बदलाव नहीं आता।
उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि उन्हें अपनी मां सोनिया गांधी से प्रेम एवं विनम्रता की सीख मिली है। गांधी ने छात्राओं से पूछा कि क्या आपको नोटबंदी पसंद आई? जब छात्राओं ने ‘न’ में जवाब दिया तो उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि नोटबंदी ने जो नुकसान किया है, वह काफी साफ है। प्रधानमंत्री को आपसे सलाह लेनी चाहिए थी। गांधी ने छात्राओं से कहा कि वे उन्हें चुनौती दें और असहज करके दिखाएं। साथ ही उन्होंने पूछा कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतनी बड़ी भीड़ के बीच खड़े होकर लोगों के सवालों का जवाब दे सकते हैं।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *