Breaking News

मेरा देश बदल रहा है

खुद को सर्वज्ञानी समझना सबसे बड़ी गलती मानते हैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र दामोदर दास मोदी। प्रधान मंत्री स्मार्ट इंडिया हैकॉथान – 2018 के प्रतिभागियों से ऑन लाइन जुड़ते हुए कहा कि देश की तरक्की के लिए लगातार 36 घंटे तक युवा इनोवेशनऔर तकनीक बनाने के लिए इतने बड़े यज्ञ में जुटे हैं यह देखकर लगता है कि मेरा देश बदल रहा है।
यदि कोई व्यक्ति अपने को सर्वज्ञानी समझने लगे तो यह जीवन की सबसे बड़ी गलती है उसी प्रकार कोई सरकार यह सोचने की भूल कर बैठे कि – सब कुछ सरकार अपने दम पर कर लेगी यह उसकी सबसे बड़ी गलती साबित होगी, इसलिए हमेशा प्रधानमंत्री मोदी पार्टिशिपेशन की बात करते है। यदि सभी मिलकर काम करें तो हम न्यू इंडिया का सपना पूरा कर सकते है।
दर्पण झूठ न बोले, जब-जब देश के नेताओं देश के युवाओं की शक्ति पहचाननें में सफल रहे भारत ने दुनिया को एक नया संदेश व मार्ग दिखलाने का कार्य किया है। भारतीय इतिहास इन क्षणों को अपने अंदर समेटे आज भी भारत को विश्व गुरू मान रहा है। मेरा देश बदल रहा है, सच में मेरा देश बदल रहा है, जिस प्रकार से हमारे देश में आज सभी मुद्दों पर चर्चाएं होने लगी है, उक्त समस्याओं के समाधान के लिए विचार आने लगे है यह स्पष्ट संकेत है कि मेरा देश बदल रहा है।
आजादी के बाद पहली बार देश की सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश पर महाभियोग चलाने की बात करना और उपराष्ट्रपति द्वारा उसे निरस्त कर देना, फिर इस पर चर्चा होना क्या यह संकेत नहीं प्रदान कर रहा कि मेरा देश बदल रहा है।
देश के चार वरिष्ठ न्यायाधीशों का सार्वजनिक रूप से मीडिया के सामने आना और पुनः न्याय के मंदिर में बैठकर भारतीय संविधान के तहत न्याय प्रक्रिया को चलाते रहना,इस बात का संकेत नहीं हैकि मेरा देश बदल रहा है।
दिल्ली की महिला आयोग की अध्यक्ष द्वारा अपने ही देश की कानून में संशोधन के लिए आमरण अनशन पर बैठक कर 12 वर्ष आयु तक की बच्ची के साथ बलात्कार होने पर मुत्यु दण्ड की मांग को मानने पर केन्द्र सरकार को विवश करना,क्या यह संकेत नहीं दे रहा कि मेरा देश बदल रहा है।
भारत की संस्कृति- सभ्यता,विश्व की सभी देशों से महान रही है, यहाँ अतिथि देवो भवः के सिद्धांत का पालन होता रहा है लेकिन आज यह देश बदल रहा है, जिस प्रकार एक वक्त फारसी दोस्त बनकर भारत पर कब्जा का कुचक्र रचने का काम किया आज उसी तरह एक बगल चीन भारत की सीमा में घुसकर कब्जा करने का प्रयास लगातार कर रहा , दुसरी तरपफ़ भारत के प्रधानमंत्री मोदी को अतिथि बनाकर अपने देश में मित्रता का स्वांग रच रहा है। सच में मेरा देश बदल रहा है। खेतों – खलिहानों से सिमट कर शौचालय घर के प्रांगण में पहुँच रहा लेकिन स्वच्छता अभियान सफल होता विपक्षियों को नजर नहीं आ रहा।
मेरा देश बदल रहा है और इस देश को बदलने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र दामोदर दास मोदी व उनकी टीम का अहम भूमिका है। लाल किला का रख- रखाव इस देश के पूँजीपति के हवाले कर दिया गया और जनता की खून -पसीने की कमाई को बचाने का कार्य किया गया है। सच मेरा देश बदल रहा है, अपने को सर्वज्ञानी समझने की भूल मत कर बैठे, मेरा देश बदल रहा है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *