Monday, May 25Welcome Guest !
Shadow

उत्तरप्रदेश SPECIAL

बस पर बवाल, अपने ही उठाने लगे सवाल

बस पर बवाल, अपने ही उठाने लगे सवाल

उत्तरप्रदेश SPECIAL, राजनीति
राजनीति (DiD News): उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अपनी खोई हुई सियासी जमीन पाने के लिए लगातार कोशिशें में लगी है। कोरोना के कहर के बीच देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में मजदूरों की घर वापसी को लेकर 'बस' पॉलिटिक्स से भी राज्य रूबरू हुआ। लेकिन अब इस मुद्दे को लेकर पार्टी के भीतर ही विरोध के सुर उठने लगे हैं। पहले तो रायबरेली विधायक अदिती सिंह ने ट्विटर के जरिए प्रियंका पर निशाना साधा था और अब एख और कांग्रेस नेता ने प्रियंका की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी ने बस विवाद मामले पर कहा है कि देश भयानक संकट से गुजर रहा है और कांग्रेस नेतृत्व राजनीति में सस्ती लोकप्रियता के लिए खिलवाड़ कर रहा है। उन्होंने आगे कहा कि गंभीरता को ताक पर रखकर केवल प्रचार के लिए बसों का फर्जीवाड़ा करके जनता के बीच मजाक का पात्र बन गया
पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने 5 पुलिस उपायुक्तों का तबादला किया

पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने 5 पुलिस उपायुक्तों का तबादला किया

उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तर प्रदेश (DiD News): उत्तर प्रदेश के लखनऊ में शनिवार को प्रशासनिक फेरबदल किया गया। लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने शहर के 5 पुलिस उपायुक्तों (DCP) का तबादला कर दिया। लखनऊ में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद पहली बार पुलिस उपायुक्तों का तबादला किया गया है। सुजीत पाण्डेय ने सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी को पुलिस उप आयुक्त उत्तरी से पुलिस उप आयुक्त पश्चिमी बनाया है। इसके अलावा अरुण श्रीवास्तव को पुलिस उप आयुक्त पश्चिमी से पुलिस उप आयुक्त मुख्यालय बनाया, शालिनी को पुलिस उपायुक्त महिला अपराध से पुलिस उप आयुक्त उत्तरी बनाया, पूजा यादव को पुलिस उपायुक्त दक्षिणी से पुलिस उपायुक्त महिला अपराध बनाया और रईस अख्तर को पुलिस उपायुक्त मुख्यालय से पुलिस उपायुक्त दक्षिणी बनाया गया है।
सीएम योगी ने ट्वीट के शब्‍दों में डिस्‍टेंस रख दिया सोशल डिस्‍टेंसिंग का संदेश

सीएम योगी ने ट्वीट के शब्‍दों में डिस्‍टेंस रख दिया सोशल डिस्‍टेंसिंग का संदेश

उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तरप्रदेश (DiD News): प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अपील पर देश आज रात नौ बजे, नौ मिनट तक अपने दरवाजों पर दीये, मोमबत्‍ती, टार्च या फिर मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाकर कोरोना के खिलाफ जंग में एकजुटता का संदेश देगा। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने इस मुहिम के समर्थन में किए ट्वीट में शब्‍दों के बीच डिस्‍टेंस रखते हुए अपने ढंग से सोशल डिस्‍टेंसिंग का संदेश दिया है। अपने ट्वीटर हैंडलर @myogiadityanath से ट्वीट करते हए उन्‍होंने 'टुडे नाइन पीएम नाइन मिनट' को अंग्रेजी में कुछ यूं लिखा T O D A Y N i n e  P M N i n e  M i n u t e
खेतों में सड़ रही सब्जियां, किसानों ने आत्महत्या की चेतावनी दी

खेतों में सड़ रही सब्जियां, किसानों ने आत्महत्या की चेतावनी दी

उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तरप्रदेश (DiD News): कोरोना लॉकडाउन ने लोगों को घरों में कैद होने पर मजबूर किया लेकिन सबसे ज्यादा मार सब्जी उगाने वाले किसानों पर पड़ी है। बाजार में सब्जियां जा नहीं पा रही है और बिचौलिये कम दाम दे रहे हैं। यहां तक की सब्जियां खेतों में सड़ रही हैं। यूपी-बिहार, झारखंड और उत्तराखंड के अलावा एनसीआर सब जगह यही हाल है। बेहाल किसान सरकार से उम्मीद लगाए बैठे हैं। रांची में तो 10 गांव के दर्जनों किसानों ने सरकार को पत्र लिखकर आत्महत्या करने की चेतावनी तक दे डाली है। राज्य में बाजार नहीं मिलने के कारण सब्जी उत्पादक किसान तबाह हैं। 10 गांव के किसानों ने सहकारिता पदाधिकारी को पत्र लिखकर आत्महत्या की चेतावनी दी है। पत्र में उन्होंने लिखा है कि व्यापारियों को गांव तक नहीं आने देने से उनका माल बाजार तक नहीं पहुंच पा रहा है। पहले किसान अपने उत्पाद उड़ीसा, बंगाल और छत्तीसगढ़ भेजते थे। प्रति
एक मार्च के बाद यूपी में बाहर से आए हर नागरिक की होगी जांच

एक मार्च के बाद यूपी में बाहर से आए हर नागरिक की होगी जांच

Exclusive News, उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तर प्रदेश (DiD News): यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार सुबह कोरोना से निपटने को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान योगी ने 1 मार्च के बाद यूपी में बाहर से आए हर नागरिक की निगरानी और हेल्थ जांच करने के निर्देश दिए। योगी ने कहा कि जरा भी शक हो तो क्वारंटाइन करें, लोगों को 14 दिनों का हेल्थ प्रोटोकॉल पालन कराएं। योगी ने कहा कि कोरोना के चलते जो उद्यम, संस्थान बंद रहे, उन संस्थानों को उनके हर कर्मचारी को वेतन देना ही होगा, अधिकारी वेतन दिलाएं। हर गरीब, दिहाड़ी मज़दूर को सरकार एक हजार रुपए देगी, वो भले ही प्रदेश के किसी भी कोने में हो, इनको ढूँढिए और पैसा पहुचांइए। योगी ने कहा कि ये मानवीय अपील है मेरी पूरे प्रदेश में अल्प वेतन भोगी, श्रमिकों या गरीब लोगों से मकान मालिक किराया ना लें।
यूपी में लॉकडाउन का दूसरा दिन, मंडियों में उमड़ी भीड़

यूपी में लॉकडाउन का दूसरा दिन, मंडियों में उमड़ी भीड़

उत्तरप्रदेश SPECIAL
कोरोना वायरस के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के 16 जिलों में 25 मार्च तक लॉकडाउन है। इसके चलते लॉकडाउन के दूसरे दिन मंगलवार को लोग सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले और जरुरतमंद की चीजें खरीद लाएं। वहीं, बरेली में पुलिस ने कड़ा रुक अपानाया और बेवजह घर से बाहर निकले लोगों पर लाठियां बरसाई। धर्मनगरी चित्रकूट में आज अमावस्या मेला के दिन सन्नाटा छाया रहा। मेरठ में लॉकडाउन के दूसरे दिन भी दिल्ली रोड और लोहिया नगर मंडी में खरीदारी को भीड़ उमड़ी। कुछ लोग सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले तो खरीदारी कर लाए। मंडियों को 12 बजे तक खोलने के प्रशासन ने व्यापारियों की सहमति से निर्देश जारी कर दिए थे। मंडियों में लोगों की भीड रही। हालांकि शहर के बस अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। लोग व्रत के लिए भी खरीदारी करते नजर आए। फल और पूजा आदि का सामान खरीदा। काँलोनियों में पार्कों में सुबह सावधानी बरतते हुए चहलकदमी क
अपने दूसरे चरण में कोरोना वायरस

अपने दूसरे चरण में कोरोना वायरस

उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तरप्रदेश SPECIAL (DID NEWS) :  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है, बल्कि इन चुनौतियों से लड़ने के लिए खुद को तैयार करने की जरुरत है। बचाव का पक्ष सबसे महत्वपूर्ण है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पूरे देश के अंदर कोरोना वायरस अभी दूसरे चरण में है। हम इस चरण पर इसको रोकने में अगर सफल होते हैं तो यह दुनिया के लिए बड़ा संदेश होगा। इस संक्रमण को रोकने के लिए हमारी कार्यवाही युद्ध स्तर पर चल रही है। हर जिला अस्पताल और मेडिकल कालेज में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 23 मरीज चिन्हित हुए थे, इनमें से नौ पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं।
लखनऊ में कोरोना वायरस का पहला मामला

लखनऊ में कोरोना वायरस का पहला मामला

उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तरप्रदेश SPECIAL उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया है। कनाडा से लखनऊ अपने रिश्तेदारों से मिलने आई एक महिला डॉक्टर में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई। इसके अलावा बिहार में कोरोना वायरस के पांच और संदिग्धों का पता चला। इनमें दो पटना जबकि बाकी तीन फारबिसगंज, औरंगाबाद और समस्तीपुर के रहने वाले हैं। आपको बता देें कि देश भर में कोरोना के 62 पॉजीटिव मामले सामने आ चुके हैं।फारबिसगंज का संदिग्ध मलेशिया टूर से तीन दिन पहले लौटा है। उसे अनुमंडलीय अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। इधर, पटना में पीएमसीएच की इमरजेंसी में भी कोरोना के दो संदिग्ध मरीजों को भर्ती कराया गया। इनमें एक औरंगाबाद तथा दूसरा समस्तीपुर का है। वहीं, एनएमसीएच में बुधवार को दो और संदिग्धों को भर्ती किया गया। दोनों पटना के ही रहने वाले हैं। इसमें 30 वर्षीय महिला राजस्थान जब
खुद को संविधान से ऊपर समझ रही योगी सरकार :प्रियंका

खुद को संविधान से ऊपर समझ रही योगी सरकार :प्रियंका

उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तरप्रदेश SPECIAL ( DID NEWS) : नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में कई राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे. उत्तर प्रदेश भी उनमें से एक था. हिंसक प्रदर्शनों में करोड़ों की सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान हुआ था. राज्य सरकार ने इसकी भरपाई के लिए लोगों को चिन्हित किया और वसूली के लिए नोटिस भिजवाया. कई जिलों में लोगों ने हर्जाने की रकम भरी. राजधानी लखनऊ में भी संपत्ति को नुकसान हुआ था. सरकार ने यहां भी दर्जनों लोगों को वसूली के लिए नोटिस भेजा. इनमें पूर्व आईपीएस अफसर एस.आर. दारापुरी (SR Darapuri) और सामाजिक कार्यकर्ता और अभिनेत्री सदफ जफर (Sadaf Zafar) का भी नाम है. इतना ही नहीं, सरकार ने इन लोगों के नाम, तस्वीर और पते के साथ शहर में होर्डिंग्स लगवा दिए. अब इसे लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने योगी सरकार पर हमला बोला है.
होली से पहले 300 किलो मिलावटी मावा जब्त

होली से पहले 300 किलो मिलावटी मावा जब्त

उत्तरप्रदेश SPECIAL
उत्तरप्रदेश SPECIAL ( DID NEWS) : होली के मौके पर मिठाई बनाने के लिए मिलावटी मावा के खिलाफ चलाए गए अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने यहां एक गांव में छापा मारकर करीब 300 किलोग्राम मिलावटी मावा जब्त किया है। छापर पुलिस थाना क्षेत्र के भेंसाखेड़ी गांव में शुक्रवार को छापेमारी की कार्रवाई की गई। मिलावटी मावा का इस्तेमाल मिठाई बनाने के लिए किया जाता था। मुख्य खाद्य निरीक्षक विवेक कुमार के मुताबिक, कारखाने में पांच लोगों से नमूने लिए गए, जोकि होली पर आपूर्ति करने के लिए मिलावटी मावा बना रहे थे। बाद में कुछ नमूनों को प्रयोगशाला में जांच के लिए भेज दिया गया जबकि बाकी मावा नष्ट कर दिया गया।