जम्मू-कश्मीर के पुंछ में नियंत्रण रेखा के पास ग्रेनेड में विस्फोट

जम्मू और कश्मीर के पुंछ जिले से एक दुखद घटना सामने आमने आयी हैं। नियंत्रण रेखा के पास ग्रेनेड में दुर्घटनावश विस्फोट होने से सेना के कैप्टन और जेसीओ की मौत हो गयी हैं। सेना के अधिकारी ने एक बयान जारी करके पूरी घटना की जानकारी दी हैं। अभी तक इस घटना के पीछे किसी आतंकी साजिश होने की खबर सामने नहीं आयी हैं लेकिन मामले की जांच की जा रही हैं।

ग्रेनेड में दुर्घटनावश विस्फोट 

जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास दुर्घटनावश एक हथगोले में विस्फोट होने से सेना के एक कैप्टन और एक जूनियर कमीशंड ऑफिसर (जेसीओ) की मौत हो गई। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी।

सेना के कैप्टन और जेसीओ की मौत  सेना के एक जनसंपर्क अधिकारी ने यहां बताया कि घटना रविवार रात की है, जब सेना कर्मी पुंछ जिले के मेंढर इलाके में तैनात थे। उन्होंने बताया कि सेना के कैप्टन और नायब-सूबेदार (जेसीओ) को तुरंत हेलीकॉप्टर से इलाज के लिए उधमपुर ले जाया गया, लेकिन वहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया।

आपको बता दें कि इस घटना से पहले जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में रविवार को एक आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का एक अधिकारी शहीद हो गया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि अपराह्न करीब 2:15 बजे आतंकवादियों ने पुलवामा के गंगू चौराहा इलाके में पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त चौकी पर गोलीबारी की। उन्होंने कहा कि इस आतंकी घटना में सीआरपीएफ के सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) विनोद कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए और उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।

प्रवक्ता ने कहा कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अतिरिक्त बल के साथ मौके पर पहुंचे और प्रारंभिक जांच से पता चला कि आतंकवादियों ने पास के सेब के बागों का फायदा उठाकर दक्षिण कश्मीर में पुलवामा के गंगू चौराहा क्षेत्र के पास सुरक्षा बलों पर अंधाधुंध गोलीबारी की। उन्होंने कहा कि इस बाबत मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच शुरू कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.