अधीर रंजन बोले- PM मोदी चाहते हैं कि देश विपक्ष मुक्त हो जाए

राजनीति (DID News): प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने धनशोधन मामले की जांच के तहत मंगलवार को यहां कांग्रेस के स्वामित्व वाले ‘नेशनल हेराल्ड’ समाचार पत्र के मुख्यालय और 11 अन्य स्थानों पर छापेमारी की।  यह छापेमारी कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी से पूछताछ के एक सप्ताह बाद की गई है। नेशनल हेराल्ड’ अखबार के परिसरों पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की छापेमारी पर कांग्रेस और विपक्षी दलों के सदस्यों के हंगामा भी देखने को मिला।

वहीं कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ईडी का दुरूपयोग करने का आरोप लगाया। कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि जवाहर लाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल, रफी अहमद किदवई आदि ने मिलकर नेशनल हेराल्ड की शुरुआत की थी जिससे भारत के लोगों को आज़ादी की जंग में शामिल कर सकें। आज इसे और कांग्रेस की छवी को धूमिल करने के लिए जांच एजेंसी ईडी का दुरूपयोग किया जा रहा है।

हमारे ख़िलाफ़ ही नहीं देश के हर विपक्षी पार्टी के ख़िलाफ़ ईडी का इस्तेमाल सरकारों को अस्थिर करने में हो रहा है। आज ईडी सरकार का औज़ार बन गई है जिससे वह विपक्षी पार्टियों को नेस्तनाबूत करना चाहती है। (नरेंद्र) मोदी चाहते हैं कि देश विपक्ष मुक्त हो जाए।सोनिया गांधी से जहां पिछले महीने तीन चरणों में 11 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की गई थी, वहीं जून में राहुल गांधी से ईडी ने पांच दिन तक, विभिन्न अंतराल पर, 50 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी।

ईडी ने मल्लिकार्जुन खड़गे और पवन बंसल जैसे वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं से भी अप्रैल में पूछताछ की थी। नेशनल हेराल्ड का प्रकाशन एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) द्वारा किया जाता है, और इसकी मूल कंपनी ‘यंग इंडियन’ है। संघीय एजेंसी के अधिकारियों ने मध्य दिल्ली में आईटीओ पर बहादुर शाह जफर मार्ग पर ‘हेराल्ड हाउस’ में स्थित नेशनल हेराल्ड के कार्यालय पर छापा मारा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.