ओवैसी की मांग, बाबासहेब अंबेडकर के नाम पर रखा जाए संसद भवन की नई इमारत का नाम

राजनीति (DID News): देश में नए संसद भवन का निर्माण किया जा रहा है। इन सबके बीच एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने एक नई मांग कर दी है। असदुद्दीन ओवैसी ने साफ तौर पर कहा है कि संसद भवन की नई इमारत का नाम संविधान निर्माता डॉक्टर बाबा साहब अंबेडकर के नाम पर हो। 

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि हम केंद्र सरकार से अपील करते हैं कि संसद भवन की नई इमारत का नाम बाबासहेब अंबेडकर के नाम पर रखा जाए। संसद संविधान पर चलती है इसलिए उस भवन का नाम बाबासहेब अंबेडकर के नाम पर रखना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि तेलंगाना में भी जो नई विधानसभा की इमारत बनाई जा रही है उसका नाम भी बाबासहेब अंबेडकर के नाम रखने की अपील हम तेलंगाना सरकार से करते हैं।

दूसरी ओर तेलंगाना सरकार ने भी एक प्रस्ताव विधानसभा में पास किया है जिसमें साफ तौर पर कहा गया है कि नए संसद भवन का नाम संविधान निर्माता डॉ अंबेडकर के नाम पर करना उपयुक्त होगा। तेलंगाना सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी एवं उद्योग मंत्री के टी रामाराव ने यह प्रस्ताव पेश किया।

आपको बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र इस बार नए भवन में आयोजित करने की योजना बनाई जा रही है। बताया जा रहा है कि दिल्ली में सेंट्रल विस्टा के पुनर्निर्माण के तहत ने संसद भवन का निर्माण किया गया है। निर्माण कार्य फिलहाल अंतिम चरण में है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2020 में नए भवन का शिलान्यास किया था।आपको बता दें कि सेंट्रल विस्टा परियोजना के तहत हैं। कर्तव्य पथ को रीडेवेलप किया गया है।

इसके अलावा इसमें कई योजनाएं शामिल हैं। खबर के मुताबिक के सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत राष्ट्रपति भवन, संसद भवन, नॉर्थ ब्लॉक और साउथ ब्लॉक, इंडिया गेट और बाकी की इमारतों को रिनोवेट और तोड़कर नई इमारते बनाने का काम शामिल है। भविष्य के लिहाज से नए संसद भवन को तैयार किया जा रहा है। हालांकि, विपक्ष इस परियोजना को लेकर लगातार सवाल उठाते रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.